आपका चीज़ मैंने हटाया

125.00

 

दीपक मल्होत्रा

आपका चीज़ मैंने हटाया हमें याद दिलाती है कि हम मनचाही नई परिस्थितियाँ और वास्तविकताएँ बना सकते हैं, लेकिन सबसे पहले हमें गहराई में बसी इस धारणा को हटाना होगा कि हम किसी दूसरे की भूलभुलैया में चूहे से अधिक कुछ नहीं हैं।

 

AAPKA CHEESE MAINE HATAYA 

पृष्ठ 104   रु125

 

✅ SHARE THIS ➷

Description

Hindi edition of “I Moved Your Cheese” by Deepak Malhotra

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “आपका चीज़ मैंने हटाया”

Your email address will not be published. Required fields are marked *