आधार से किसका उद्धार ? – रीतिका खेड़ा

125.00

आधार से किसका उद्धार ?

रीतिका खेड़ा

‘‘रीतिका खेड़ा की किताब भारी सरकारी प्रचार के साथ सारे देश में लागू की गई विवादित आधार योजना के बारे में एक सामयिक और सटीक दस्तावेज़ है। यह बताती है कि कैसे सर्वोच्च न्यायालय और जानकारों की सलाह की अनदेखी करते हुए सरकार ने आधार कार्ड को फटाफट तमाम सरकारी कल्याण योजनाओं के लाभार्थियों के लिए अनिवार्य बना दिया। इससे उपजी विसंगतियों और जनता के संवैधानिक अधिकारों को पहुँचे गम्भीर नुकसान पर लेखिका ने बड़ी ईमानदारी से रोशनी डाली है। किताब हमको आधार से जमा किए गए भारतीय उपभोक्ता की बाबत अनमोल डाटा का, आगे मुनाफ़ाख़ोर बाज़ार द्वारा सम्भावित दुरुपयोग के ख़िलाफ़ चेतावनी देती है। एक जटिल विषय के सहज हिन्दी अनुवाद ने इस किताब को सरल और आमफ़हम बनाया है।’’

—मृणाल पाण्डे

पृष्ठ-128 रु125

✅ SHARE THIS ➷

Description

आधार से किसका उद्धार ? – रीतिका खेड़ा

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “आधार से किसका उद्धार ? – रीतिका खेड़ा”

Your email address will not be published. Required fields are marked *